Home स्पोर्ट्स IPL में आगे अब क्या: विदेशी खिलाड़ियों को उनके घर पहुंचाना BCCI...

IPL में आगे अब क्या: विदेशी खिलाड़ियों को उनके घर पहुंचाना BCCI की सबसे बड़ी चुनौती; UAE, ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों ने भारत से आने वाली फ्लाइट्स पर रोक लगाई

0
3


  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Ipl
  • IPL 2021 : IPL Postponed Biggest Immediate Challenge For BCCI Is To Get Overseas Players Into Their Respective Countries

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली3 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

IPL के 14वें सीजन को कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह से टाल दिया गया है। पिछले 2 दिनों में 3 फ्रेंचाइजी के 4 खिलाड़ी और 1 स्टाफ पॉजिटिव आए हैं। सूत्रों के मुताबिक अभी और मामले आ सकते हैं। ऐसे में कई टीमों ने खुद को क्वारैंटाइन कर लिया है।

इसने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के सामने भी एक चुनौती खड़ी कर दी है। फिलहाल लीग में 61 खेल रहे थे। अब BCCI के पास इन सबको सफलतापूर्वक घर पहुंचाने की भी जिम्मेदारी है। पर UAE और ऑस्ट्रेलिया समेत कई देशों ने भारत से आनी वाली फ्लाइट्स पर रोक लगा रखी है। ऐसे में BCCI को इन सभी को सुरक्षा के साथ घर भेजना बड़ी चुनौती है।

100 से ज्यादा विदेशी खिलाड़ी और स्टाफ भारत में
चेन्नई सुपर किंग्स, दिल्ली कैपिटल्स, कोलकाता नाइट राइडर्स, मुंबई इंडियंस, पंजाब किंग्स, सनराइजर्स हैदराबाद में सबसे ज्यादा 8-8 विदेशी खिलाड़ी हैं। वहीं, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु में 7 और राजस्थान रॉयल्स में 6 विदेशी खिलाड़ी हैं। इसमें ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और साउथ अफ्रीका के 50 से ज्यादा खिलाड़ी हैं। इसके साथ ही बांग्लादेश और वेस्टइंडीज के खिलाड़ी भी इस लीग से जुड़े हुए हैं। इतना ही नहीं इन सभी देशों के 40 से ज्यादा स्टाफ और कमेंटेटर भी भारत में हैं।

ऑस्ट्रेलिया और बांग्लादेश ने भारत से फ्लाइट्स पर रोक लगाई
कई देशों ने भारत से आने वाले लोगों के लिए एंट्री पर बैन लगा दिया है। इसमें ऑस्ट्रेलिया और बांग्लादेश मुख्य देश हैं। वहीं, भारत से इंग्लैंड जाने वाले लोगों को 10 दिन के लिए सख्त क्वारैंटाइन नियमों के पालन करने होंगे। लोगों को UK सरकार द्वारा एप्रूव्ड किए गए होटल में क्वारैंटाइन किया जाएगा। साथ ही उन्हें दूसरे और 8वें दिन कोरोना टेस्ट भी करवाना होगा।

अब UAE होकर भी अपने देश नहीं जा सकते खिलाड़ी
हालांकि, UAE ने कुछ दिन पहले तक अपने द्वार खोल रखे थे। पर उन्होंने भी भारत में कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद 14 मई तक भारत से आनी वाली फ्लाइट्स पर रोक लगा दी। IPL बीच में छोड़कर जाने वाले ऑस्ट्रेलिया के एंड्र्यू टाई और इंग्लैंड के लियाम लिविंगस्टोन इसी देश होकर अपने-अपने देश लौटे थे।

बांग्लादेश ने भी 1 मई के बाद से भारत और साउथ अफ्रीका से हवाई सेवा पर रोक लगा रखी है। पर उनका लैंड बॉर्डर खुला है। इस मार्ग से आने वाले लोगों को 14 दिन के सख्त क्वारैंटाइन में भेजा जाएगा।

न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड अपने खिलाड़ियों से संपर्क में है
न्यूजीलैंड ही इकलौता ऐसा देश है, जहां उनके देश के लोगों को आने की इजाजत दी गई है। पर कोई भी देश इस वक्त भारत से अपने खिलाड़ियों को लाने का इच्छुक नहीं है। न्यूजीलैंड क्रिकेट ने भारत के हालात पर बयान देते हुए कहा था कि हम अपने खिलाड़ियों से संपर्क में हैं।

उन्होंने कहा कि सभी खिलाड़ी सुरक्षित हैं और जो खिलाड़ी संपर्क में आए टीम से हैं उन्होंने अपने आप को क्वारैंटाइन कर लिया है। हम लगातार BCCI, ECB और न्यूजीलैंड सरकार से संपर्क में हैं। इस वक्त जल्दबाजी में कुछ भी कह पाना मुश्किल है।

भारत से ऑस्ट्रेलिया जाने वाले लोगों को जेल में बंद किया जाएगा
वहीं, ऑस्ट्रेलिया ने 15 मई तक फ्लाइट्स पर बैन लगाया है। इसके साथ ही वहां अपने या किसी देश के लोगों के लिए सख्त नियम भी लगाए गए हैं। नियम के मुताबिक अगर कोई भी व्यक्ति भारत से उनके देश आता है, तो उन्हें जेल में बंद कर दिया जाएगा। ऐसे में क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया किसी भी खिलाड़ी को वापस बुलाने पर विचार नहीं कर रहा है। CA ने सोमवार को कहा कि फिलहाल चार्टर्ड फ्लाइट्स का भी कोई ऑप्शन नहीं है। सभी खिलाड़ी सुरक्षित हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here