Home देश युवा दिखा रहे समझदारी: 45 प्लस वालों ने जो ढिलाई बरती, उससे...

युवा दिखा रहे समझदारी: 45 प्लस वालों ने जो ढिलाई बरती, उससे अलग 18 प्लस वालों के वैक्सीन प्रोग्राम में गजब का उत्साह; रजिस्ट्रेशन के 3-5 मिनट में बुक हो रहा सेंटर

0
2


  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Apart From The Laxity Of The 45 Plus People, The Enthusiasm In The Vaccine Program Of 18 Plus People Is Amazing, The Center Is Being Booked In 3 5 Minutes Of Registration

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जयपुर36 मिनट पहलेलेखक: महेश शर्मा

  • कॉपी लिंक

18 प्लस वालों के वैक्सीन प्रोग्राम में गजब का उत्साह देखने को मिल रहा।

जिस वैक्सीन प्रोग्राम को कभी 45 प्लस वाले ही लगाने से झिझक रहे थे, उसको युवाओं की समझदारी ने पीक पर पहुंचा रही है। राजधानी में तीसरे ही दिन आलम यह था कि रजिस्ट्रेशन के बाद जैसे ही 9 बजे के करीब सरकार ने सेशन बनाकर डाला तो 3 से 5 मिनट में बुक हो गया। अभी 22 सेंटर पर वैक्सीनेशन शुरू किया गया है।

पहले दिन 14 सेंटर पर 446 लोग ही आए (ज्यादातर फोन करने पर) थे, जो कि कुल करीब एक हजार रजिस्ट्रेशन का 13% था। दूसरे दिन संख्या 4876 तक पहुंची। तीसरे दिन तो सेंटर पर और लाइनें नजर आईं। अभी 18+ वालों को रजिस्ट्रेशन के बाद ही वैक्सीनेशन सेशन अलॉट हो रहा है। यह संबंधित रजिस्ट्रेशन कराने वाले ही चयन करते हैं।

जयपुर को वैक्सीनेशन की 40 हजार डोज मिली
18 प्लस वालों के लिए जयपुर को फिलहाल 20-20 हजार डोज दी हुई है। जल्द ही इसकी डिमांड बढ़ने को है, अब यह सेंटर पर निर्भर है कि वो कितनी सप्लाई देता है। सप्लाई दो दिन छोड़कर आने की बात कही जा रही है। वहीं वैक्सीनेशन के लिए 30 अप्रेल तक जो 60 अस्पताल रजिस्टर्ड कर लिए थे, उन्हें अब सेंटर के आदेश मुताबिक कोई वैक्सीन सप्लाई नहीं (फोर्टिस ने खरीदी) दे रहे।

18 से 44 वालों का गणित

  • 30 लाख 50 हजार 831 लोग इस एज ग्रुप में शामिल
  • 40,000 वैक्सीन डोज (फर्स्ट-सैकंड में 20-20 हजार) आई, अब सेंटर से आने वाली वैक्सीन पर निर्भर करेगा कि प्रोग्राम कब तक चलेगा
  • 11058 के लोगों को वैक्सीन हुआ तीन दिन में
  • 13 से बढ़ाकर 20-25 सेंटर इस सप्ताह खुलेंगे

सेंटर पर भी कोविड पॉजिटिव लोग आने से काम प्रभावित
संबंधित अधिकारियों के मुताबिक 18 प्लस वालों को पहले कोवेन ऐप में रजिस्ट्रेशन कराना होगा। शाम को वैक्सीन की उपलब्धता और स्टाफ, सेंटर के हालात देखते हुए सेशन बनाते हैं। फिलहाल एक समस्या स्टाफ के पॉजिटिव आने से शुरू हो गई है। ऐसे हालात में पहले पूरे सेंटर को सेनिटेशन करके वैक्सीन की उपलब्धता के आधार पर साइट बनाते हैं।

इन 22 सेंटरों पर हुआ युवाओं को वैक्सीनेशन
आरसीएचओ के पहले दिन 5, दूसरे दिन 11 और तीसरे दिन 13 सेंटर पर वेक्सीनेशन हुआ। इसी तरह आरसीएचओ के तीनों दिन 9-9 ही सेंटर बनाए गए हैं। आने वाले दिनों में सेंटर की संख्या 20-25 संभव है।

घर-घर जागरूकता अभियान भी काम आ रहा
520 टीम घर-घर जाने वाली। एक टीम में 2-2 मेंबर शामिल। 95 टीम बतौर कलेस्टर (नुक्कड़ नाटक-रंगोली-बैनर-पोस्टर-रैली)। 20 मेंबर शामिल।

प्रोग्राम को एक्सपर्ट से समझिए

  • ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के बाद प्रतिदिन स्लॉट बनेंगे। इसके बाद इनको बुक करना पड़ेगा। उसी के अनुसार सेंटर बुक कर सकेंगे। दूसरे दिन से ही युवाओं के उत्साह से प्रोग्राम ने गति पकड़ ली है। – डॉ. प्रवीण जरवाल, आर-सीएमएचओ (वैक्सीनेशन)
  • हमारे 9 सेंटर है। पहले दिन तो फोन करके बुलाना पड़ा, अब खूब उत्साह हो रहा है, जो कभी 45 प्लस वालों में नहीं था। – डॉ. पुष्पा चौधरी, आर-सीएचएमओ सैकंड (वैक्सीनेशन)
  • वैक्सीन की उपलब्धता पर काम तेजी से आगे बढ़ेगा। अपील है लोग प्रक्रिया फॉलो कर जल्द वैक्सीन लगाएं। – अशोक कुमार, एडीएम-4 (वैक्सीनेशन)

खबरें और भी हैं…



Source link

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here