81.4 F
India
Tuesday, April 13, 2021
Home बिज़नेस मोदी के आर्थिक प्रोत्साहन पैकेज में सिर्फ 12 से 13 लाख करोड़...

मोदी के आर्थिक प्रोत्साहन पैकेज में सिर्फ 12 से 13 लाख करोड़ रुपए की ही नई मदद मिलेगी


  • प्रधानमंत्री ने 12 मई को कोविड-19 संकट से उबरने के लिए इस पैकेज की घोषणा की
  • इस पूरे पैकेज में मात्र 50 से 60 प्रतिशत ही नई राहत राशि का आवंटन होगा

दैनिक भास्कर

May 13, 2020, 04:02 PM IST

मुंबई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 20 लाख करोड़ रुपए के आर्थिक पैकेज की घोषणा में से करीब 60 प्रतिशत यानी 12 से 13 लाख करोड़ रुपए ही नयी मदद के रूप में हासिल होगा। डीबीएस बैंक की एक रिपोर्ट के मुताबिक इसमें से एक बड़ी राशि रिजर्व बैंक नकदी सहायता के रूप में पहले ही दे चुका है, जो इस पूरे पैकेज का हिस्सा है।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार, 12 मई को राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में कोविड-19 संकट से उबरने के लिए इस पैकेज की घोषणा की। इस पैकेज में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के लिए पहले घोषित 1.7 लाख करोड़ रुपए की राशि और भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा बाजार को दी गई सहूलियतें शामिल हैं। बाकी पैकेज की विस्तृत जानकारी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण देंगी।

50-60% ही नई राहत राशि का आवंटन होगा
डीबीएस बैंक ने इस संबंध में बुधवार को एक रिपोर्ट जारी की। बैंक में अर्थशास्त्री राधिका राव ने कहा, “प्रधानमंत्री मोदी ने 20 लाख करोड़ रुपए का आर्थिक प्रोत्साहन पैकेज देने की घोषणा की। यह देश के सकल घरेलू उत्पाद का 9.7 प्रतिशत है। इस पूरे पैकेज में मात्र 50 से 60 प्रतिशत ही नई राहत राशि का आवंटन होगा। अभी इस बारे में अधिक जानकारी नहीं है, लेकिन इसका वित्तीय बोझ बांड बाजार पर पड़ेगा।”

रिजर्व बैंक ने मार्च में 3.7 लाख करोड़ रुपए की सहायता दी
उन्होंने कहा कि इस नए आर्थिक पैकेज का आकार चौंकाने वाला है। यह उम्मीद से अधिक बड़ा है। इसमें भी स्थानीय विनिर्माण और बेहतर आपूर्ति श्रृंखला पर जोर देकर अर्थव्यवस्था को अधिक आत्म निर्भर बनाने की बात कही गई है। सरकार के गरीबों के कल्याण के लिए घोषित 1.7 लाख करोड़ रुपए की मदद के अलावा रिजर्व बैंक ने मार्च में 3.7 लाख करोड़ रुपए और अप्रैल में 2 लाख करोड़ रुपए की नकदी सहायता उपलब्ध करा चुका है।

राव ने कहा, “सरकार के पूरे पैकेज की करीब 60 प्रतिशत राशि यानी 12 से 13 लाख करोड़ रुपए ही नई मदद के रूप में उपलब्ध होगी। यदि इसमें रिजर्व बैंक के समग्र राहत कदमों को शामिल कर लिया जाता है, तो नया पैकेज करीब 10 लाख करोड़ रुपए रहने की संभावना है।”



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

जून से बंद हो जाएगा गूगल का शॉपिंग एप

एजेंसी, वाशिंगटन Published by: Kuldeep Singh Updated Tue, 13 Apr 2021 01:33 AM IST ख़बर सुनें ख़बर सुनें गूगल शॉपिंग एप जून से बंद कर...

दिल्ली के 14 निजी अस्पतालों में सिर्फ कोरोना मरीजों को मिलेगा इलाज, सरकार ने लिया फैसला

नई दिल्ली:  राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 मामलों के तेजी से बढ़ने के मद्देनजर दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने सोमवार को 14 बड़े...

Recent Comments