99 F
India
Tuesday, May 4, 2021
Home जीवन मंत्र कोट्स: कलियुग में रहना है या सतयुग में, यह हमें खुद चुनना...

कोट्स: कलियुग में रहना है या सतयुग में, यह हमें खुद चुनना चाहिए, हमारा युग हमारे पास ही है


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

9 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • आचार्य विनोबा भावे ने अपने विचारों में जीवन को सुखी और सफल बनाने के सूत्र बताए हैं, जानिए ये सूत्र

आचार्य विनोबा भावे स्वतंत्रता संग्राम के सेनानी थे। वे गांधीवादी थे। इनके विचारों को जीवन में उतारने से हमारी कई समस्याएं खत्म हो सकती हैं। वे कहा करते थे कि कलियुग और सतयुग इनमें से हमें खुद ही हमारा युग चुनना चाहिए। अगर हम अच्छा आचरण करेंगे तो ये सतयुग बन जाएगा और बुरा आचरण करेंगे तो कलियुग।

यहां जानिए आचार्य विनोबा भावे के कुछ खास विचार…

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

पुरुष इस वक्त खा लें 5 खजूर, फायदे जानेंगे तो रोजाना खाएंगे

नई दिल्लीः खजूर पुरुषों के लिए विशेष लाभदायक बताए गए हैं. इन्हें एनर्जी का बेहतरीन स्त्रोत माना जाता है. अफ्रीका में लोग ये...

लखनऊ यूनिवर्सिटी ने जारी किया BA इकोनॉमिक्स और प्राचीन भारतीय इतिहास का रिजल्ट, ऐसे करें चेक

Lucknow University Results: लखनऊ यूनिवर्सिटी (Lucknow University) ने बीए इंग्लिश एमए जर्नलिज्म और मास कम्यूनिकेशन का रिजल्ट जारी कर दिया है. यूनिवर्सिटी ने...

काम की बात: पैसों की जरूरत पड़ने पर PPF अकाउंट से पैसे निकालने का बना रहे हैं प्लान, इससे पहले यहां जानें इससे जुड़े...

Hindi NewsBusinessPF; Public Provident Fund (PPF) Withdrawal Rules; Key Things You Need To KnowAds से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल...

Recent Comments