98.4 F
India
Friday, May 7, 2021
Home बिज़नेस इकोनॉमी और रेवेन्यू दोनों का लॉस: अप्रैल में 6.25 लाख करोड़ का बिजनेस लॉस,...

इकोनॉमी और रेवेन्यू दोनों का लॉस: अप्रैल में 6.25 लाख करोड़ का बिजनेस लॉस, व्यापारी संगठन कैट ने दिया अनुमान


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

एक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
  • केंद्र और राज्य सरकारों को लगभग 75 हजार करोड़ के राजस्व का नुकसान होने के आसार
  • खुदरा व्यापार में 4.25 लाख करोड़ और थोक व्यापार में 2 लाख करोड़ के घाटे का अनुमान

कनफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने कहा है कि कोविड के चलते पिछले महीने देश में 6.25 लाख करोड़ रुपए का बिजनेस लॉस होने का अनुमान है। इस व्यापारी संगठन के मुताबिक, महामारी के चलते केंद्र और राज्य सरकारों को भी लगभग 75 हजार करोड़ के राजस्व का नुकसान होने के आसार हैं।

सरकार से रणनीति में संतुलन बनाने की अपील

कैट ने कोविड से लोगों की जान और अर्थव्यवस्था और व्यापार को हो रहे भारी नुकसान को देखते हुए सरकार से रणनीति में संतुलन बनाने के लिए आगे सोच-समझकर कदम उठाने की अपील की है।

खुदरा व्यापार को 4.25 लाख करोड़ का बिजनेस लॉस

कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी सी भरतिया और राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने आज कहा कि अप्रैल में कुल 6.25 लाख करोड़ रुपए का बिजनेस लॉस होने के आसार हैं। दोनों व्यापारी नेताओं के मुताबिक, 4.25 लाख करोड़ रुपए के बिजनेस का लॉस खुदरा व्यापारियों जबकि लगभग 2 लाख करोड़ रुपये का नुकसान थोक व्यापारियों को होने का अनुमान है।

दिल्ली के व्यापारी संगठनों ने एक हफ्ता बाजार बंद रखने का फैसला किया था

दस दिन पहले दिल्ली के 100 से अधिक बड़े व्यापारी संगठनों ने सोमवार 26 अप्रैल से 2 मई तक एक हफ्ता स्वेच्छा से बाजार बंद रखने का फैसला किया था। उन्होंने यह कदम कोरोना के चलते राजधानी में बढ़े संकट और चिकित्सा सुविधाओं की चरमराई स्थिति को देखते हुए उठाया था।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

कोरोना डेथ क्लेम में होगी आसानी: एलआईसी ने कहा, बिना मनपा के डेथ सर्टिफिकेट के भी ले सकते हैं क्लेम, जाने कैसे मिलेगी दावे...

Hindi NewsBusinessCoronavirus Death Claim (LIC) Update; How To Get Claim Without Death CertificateAds से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें...

Recent Comments